समूह सखी को मानदेय कौन देता है ?|samuh sakhi ko mandey kaun deta hain?|

 राष्ट्रीय आजीविका मिशन भारत सरकार द्वारा चल रहे स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को हर एक प्रकार की योजनाएं प्रदान की जाती है। समूह की कौन होती है और उसे मानदेय कहां से मिलता है यह जानते हैं इस पोस्ट में।

Swayam sahayata samuh ki baithak
समूह समूह

 समूह सखी क्या है?।samuh sakhi job 2023

स्वयं सहायता समूह की महिलाओं में यह भ्रम रहता है कि सहायता समूह के जरिए कभी ना कभी हमें नौकरी मिलेगी।

ग्रामीण क्षेत्र में स्वयं सहायता समूह के लिए भारत सरकार ने एक समूह सखी की नियुक्ति करने का आदेश दिया। समूह सखी का कार्य गांव में चल रहे 5 या 6 समूहों की देखरेख करना होता है। समूह सखी का कार्य ब्लॉक स्तर पर जाकर राष्ट्रीय आजीविका मिशन के तहत आने वाले समस्त प्रकार की योजनाएं एवं लाभों के बारे में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को बताना होता है।

प्रत्येक ग्राम पंचायत में स्वयं सहायता समूह होते हैं। यदि 1 ग्राम में 10 से 12 स्वयं सहायता समूह चल रहे हैं तो वहां पर दो समूह सखी की नियुक्ति भारत सरकार द्वारा की जाती है।

 समूह सखी को मानदेय कौन देता है? Samuh sakhi

स्वयं सहायता समूह में समूह सखी को अत्यधिक वरीयता दी जाती है। समूह सखी का कार्य 10 से 12 स्वयं सहायता समूह के कार्यों का संचालन करना होता है। समूह सखी सीधे राष्ट्रीय आजीविका मिशन भारत सरकार द्वारा नियुक्ति की जाती है। इसलिए स्वयं सहायता समूह में समूह सखी को वेतन देने के लिए राष्ट्रीय आजीविका मिशन भारत सरकार जिम्मेवार होती है। समूह सखी का मानदेय 1500 से लेकर 6000 रुपए महीने तक हो सकता है।

स्वयं सहायता समूह से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न। Swayam sahayata samuh questions and answers

प्रश्न 1स्वयं सहायता समूह का गठन ग्रामीण क्षेत्र में ही किया जाता है?

उत्तर_ हां स्वयं सहायता समूह का गठन ग्रामीण क्षेत्र में ही किया जाता है शहरी क्षेत्र में स्वयं सहायता समूह को दीनदयाल अंत्योदय योजना के नाम से भी जाना जाता है।

प्रश्न 2. स्वयं सहायता समूह में कौन-कौन सी नौकरियां हैं?

उत्तर _ स्वयं सहायता समूह में जुड़ी पढ़ी लिखी महिलाओं को राष्ट्रीय आजीविका मिशन के द्वारा संविदा पर अनेक प्रकार की नौकरियां दी जाती हैं। लेकिन इन नौकरियों को रोजगार कहना उपयुक्त होगा। क्योंकि इन पदों की नौकरियों का कोई निश्चित मानदेय नहीं है

प्रश्न 3. स्वयं सहायता समूह के क्या लाभ हैं?

उत्तर स्वयं सहायता समूह से जुड़ी हुई महिलाओं को अनेक प्रकार के लाभ दे जाते हैं। स्वयं सहायता समूह से जुड़ी हुई महिलाएं में बचत की क्षमता विकसित हो जाती है इसके अलावा स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को रोजगार के लिए न्यूनतम ब्याज दर पर ऋण प्रदान किया जाता है।

प्रश्न 4 . स्वयं सहायता समूह से कितने रुपए का लोन लिया जा सकता है?

उत्तर स्वयं सहायता समूह में लोन के लिए आपके समूह की ग्रेडिंग अच्छी होनी चाहिए। इसके अलावा स्वयं सहायता समूह से 15000 से लेकर ₹650000 तक का लोन लिया जा सकता है।

प्रश्न 5 . स्वयं सहायता समूह का लोन लेने के बाद क्या उसे लौट आना पड़ता है।

स्वयं सहायता समूह में लोन लेने के बाद समूह को ब्याज सहित लोन को लौट आना पड़ता है। लेकिन स्वयं सहायता समूह के द्वारा लिए गए laon पर बैंक न्यूनतम ब्याज दरों पर loan प्रदान करती है।

Leave a comment